Sun, September 27
सोलन
24x7 Live TV
Latest Videos
Digital Paper
ठियोग :सरकार की मिलीभगत से एक व्यक्ति को दे दी जंगल की 84

शिमला:ठियोग की धर्मपुर में पूर्व प्रधान ने लगाए 84 बीघा जमीन देने के आरोप।सरकार पर लगाया निजी व्यक्ति को लाभ देने का आरोप। जंगल की जमीन को निजी व्यक्ति के नाम करने पर जताई आपत्ति सरकार से उठाई जांच की मांग।

ठियोग तहसील के गांव धर्मपुर में सरकार की मिलीभगत से 84 बीघा 18 विस्वा घना जंगल एक व्यक्ति के नाम किये जाने पर धर्मपुर की पूर्व प्रधान वनीता वर्मा ने हैरानी जताते हुए इसे एक बड़ा घोटाला बताया है।उनका कहना है कि धर्मपुर पँचायत में वर्ष 1929,30में डी पी एफ डी 29शालीटीर का घना जंगल और बिग लेंड सीलिंग अक तब1953 में वेस्ट लेंड कैसे एक व्यक्ति के नाम हो गई,जबकि इस पंचायत के लोगों का इस जंगल मे घास पत्ती के हकहुकब है।

वनीता वर्मा ने ठियोग में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि यह पूरा जंगल हथियाने का मामला वर्ष 1994 ,95 सेटलमेंट अधिकारी के समक्ष आया था।सेटलमेंट अधिकारी ने इस मामले को दो बार खारिज भी किया।बाद में वित्त आयुक्त ने भी इसे खारिज किया।
वनीता वर्मा ने बताया कि वर्ष 2017 में एकाएक सेटलमेंट अधिकारी ने योगीन्द्र चंद्र ,दिग्गविजय सिंह के नाम घासनी बता कर कर दी गई है,जबकि न तो यह इनके नाम थी और न ही किसी प्रकार का इनका इस पर कोई कब्जा था।
वनीता वर्मा ने बताया कि उन्होंने इस मामले के पूरे दस्तावेजों सहित प्रदेश सरकार के समक्ष रखे एक वर्ष से अधिक हो गया है,पर जांच के नाम पर पूरी फ़ायल ही कही ठंडे बस्ते में पड़ी है।उन्होंने कहा कि अब वह इस पूरे मसले को उच्च न्यायालय के समक्ष रखने जा रही है।उन्होंने आरोप लगाया है कि यह सब राजनैतिक प्रभाव के चलते दबाया जा रहा है।इसमें प्रभाव शाली लोगों की मिलीभगत से भी इंकार नहीं किया जा सकता।उनका कहना है कि पहले जो दो बार सेटलमेंट से खारिज हो चुका हो बाद में फिर सेटलमेंट अधिकारी द्वारा पारित किया जाना किसी बड़े संदहे को पैदा करता है।इसलिए इस पूरे मसले की जल्द जांच की मांग वह प्रेस के माध्यम से वह कर रही है।अगर ऐसा नही हुआ तो वह प्रदेश उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाने से भी पीछे नही हटेगी।

आपको बता दे कि इस मामले को लेकर बनीता वर्मा ने मुख्यमंत्री के पास भी जमीन के दस्तावेज देकर जांच की मांग की है।ओर इस मामले में वन विभाग और राजस्व विभाग पर कानून की उलनघना करने के आरोप लगाए हैं।अब देखना यर है कि सरकार इस पर क्या करवाई करती है।

Live Events

काँगड़ा लाइव - प्रदेश बास्केटबाल संघ के प्रदेशाध्यक्ष की प्रेस वार्ता
नेरवा : युवा पीढ़ी को नशे की गिरफ्त से कैसे बाहर निकाले।

Latest Videos

सुजानपुर : सुजानपुर में दो करोना संक्रमित मौतें होने के बाद पुलिस प्रशासन सख्त, बिना मास्क पहने लोगो…
26-Sep-2020
सोलन : यातायात को दुरुस्त बनाने के लिए अमल में लाई जा रही कठोर कार्रवाई।
26-Sep-2020
क्या करोना खत्म हो गया ?
26-Sep-2020
अर्की: कृषि विभाग के सौजन्य से दो दिवसीय शिविर का किया गया आयोजन।
26-Sep-2020
Sponsored Ads