Mon, January 18
सोलन
24x7 Live TV
Latest Videos
Digital Paper
एनपीएस कर्मियों की उम्मीद को धक्का

एनपीएस कर्मियों की उम्मीद को धक्का
हिमाचल में अंशदायी पेंशन योजना पर जोर, सरकार की मजबूरी : आमदनी अठन्नी-खर्चा रुपैया
लाइव टाइम्स ब्यूरो
शिमला : सालों से पुरानी पेंशन बहाली की उम्मीद कर रहे प्रदेश के लाखों कर्मचारियों की यह उम्मीद टूटती नजर आ रही है। प्रदेश सरकार एनपीएस की जगह ओल्ड पेंशन के बारे में कोई विचार ही नहीं कर रही। सरकार की मजबूरी है कि उसकी आमदनी अठन्नी और खर्चा रूपैया है।
वीरवार को विधानसभा मॉनसून सत्र में प्रश्नकाल की शुरूआत ही नई पेंशन योजना से हुई, जिसमें ठियोग के विधायक राकेश सिंघा व विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने मुख्यमंत्री से पूछा कि केंद्र सरकार ने एनपीएस के नियमों में बदलाव किया है, क्या प्रदेश सरकार भी इसे लागू करने का विचार रखती है। प्रदेश सरकार राज्य के कर्मियों को 2003 से पहले की पद्धति के आधार पर पेंशन देने का विचार रखती है?
जवाब में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बताया कि पेंशन को लेकर बदलाव होते रहते हैं। भारत सरकार के नियम हिमाचल सरकार पर लागू नहींं होते, फिर भी सरकार अपने संसाधनों की उपलब्धता को देखते हुए नियम लागू करती है। जबाब से असंतुष्ट राकेश सिंघा ने कहा कि एनपीएस के रूल में कई खामियां हैं। प्रदेश सरकार केंद्र के आदेशों का पालन करे। सिंघा का कहना था कि एक निशान, एक प्रधान व एक विधान के नारे को एनपीएस में भी लागू किया जाए। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि 2003 में जब एनपीएस लागू हुआ, उस समय कांग्रेस की सरकार थी। ग्रेेजुएटी पर उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार यदि इसमें कुछ करती है तो प्रदेश सरकार भी विचार करेगी।
मुकेश अग्निहोत्री बोले कि 2004 में अटल बिहारी सरकार ने एनपीएस लागू की थी। भाजपा संसाधनों की बात न करके पुरानी पेंशन स्कीम योजना शुरू करें, क्योंकि अब तो डबल इंजन की सरकार है। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि एनपीएस कर्मियों का सरकारी अंशदान बढ़ाकर 10 से 14 फीसदी किया है। सीएम ने जानकारी दी कि हिमाचल सरकार को टैक्स के माध्यम से 10 हजार करोड़ आता है, जबकि कर्मियों के वेतन व पेंशन पर खर्चा 19 हजार करोड़ का है। ऐसे में एनपीएस लागू रखना सरकार की मजबूरी है।

Latest Videos

नाचन विधायक विनोद कुमार ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और शहरी विकास मंत्री का जताया आभार
15-Dec-2020
शाहपुर पुलिस ने नाके के दौरान 120 बोतल देसी शराब पकड़ी
15-Dec-2020
कृषि कानून से किसानों को होगा लाभ
15-Dec-2020
हिम सुरक्षा अभियान के तहत 2 लाख 45 हजार लोगों की हुई स्क्रीनिंग
15-Dec-2020
नाहन : कोहरे ने बढ़ाई लोगों की मुश्किलें
15-Dec-2020
संजीवनी सहारा समिति रोहडू ने टिक्कर पंचायत के गुजांदली गांव में अग्नि पीड़ित परिवारों को राशन सामग्री लेकर की सहायता
15-Dec-2020
बिलासपुर के माकड़ी-मार्कण्ड पंचायत के ग्रामीण मारपीट के मामले को लेकर पुलिस की कार्यवाही से हैं खफा
15-Dec-2020
मंडी : किसानों के समर्थन में किसान संगठनों ने सेरी मंच पर किया प्रदर्शन केंद्र सरकार के कृषि बिल व बिजली बिल को वापिस लेने की उठाई मांग
14-Dec-2020
Sponsored Ads