Fri, August 14
सोलन
August 01,2020

एकमात्र महिला जिसने कारगिल युद्ध में किया शत्रुओं का सामना ,जिनकी जिंदगी पर अब बन ने जा रही है बॉलीवुड फिल्म।

भारतीय वायुसेना की पहली महिला अफसर गुंजन सक्सेना  ने अपने सपनो को साकार कर दिखाया।फ्लाइट लेफ्टिनेंट गुंजन सक्सेना (1975-वर्तमान) एक भारतीय वायु सेना अधिकारी और  हेलीकाप्टर पायलट थी । साल 1994 में  गुंजन सक्सेना भारतीय वायुसेना में शामिल हुईं,और 1999 में उन्हें कारगिल युद्ध के बाद शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया।  कारगिल युद्ध का हिस्सा बनने वाली गुंजन सैक्सेना एकमात्र महिला रही है । युद्ध के दौरान उनकी मुख्य भूमिकाओं में से एक था कारगिल से घायलों को बाहर निकालना, परिवहन की आपूर्ति और निगरानी में सहायता करना। वह कारगिल से घायल और मृत दोनों 900 से अधिक सैनिकों को निकालने के लिए ऑपरेशन का हिस्सा बनी थी । 2004 में, सात साल तक पायलट के रूप में सेवा देने के बाद, हेलीकाप्टर पायलट के रूप में उनका स्वर्णिम करियर समाप्त हो गया। महिलाओं के लिए स्थायी कमीशन की अवधारणा उनके समय में नहीं थी।उन्हें लिंग भेद की सामाजिक बुराइयों से सामने करना पड़ा ,और पुरुष प्रधान देश में अपना अस्तित्व बनाने के लिए जी तोड़ मेहनत करनी पड़ी ,लेकिन ऐसे क्षणों में गुंजन सक्सेना ने हार नहीं मानी ,और निरंतर चुनौतियों से लड़ती रही। 

बता दे की गुंजन सक्सेना का जन्म लखनऊ में एक आर्मी परिवार में हुआ था।  उनके पिता, लेफ्टिनेंट कर्नल (retd) ए सक्सेना, और भाई दोनों ने भारतीय सेना में अपनी सेवायें दी। वह 1994 में भारतीय वायुसेना में शामिल होने वाली 25 महिलाओं के समूह में से एक थीं। यह भारतीय वायुसेना के प्रशिक्षुओं के वायुसेना प्रशिक्षुओं का पहला बैच था।  उनके बैच में, छह महिला प्रशिक्षुओं में से श्रीविद्या राजन थीं, जो युद्ध क्षेत्र में चीता को उड़ाने के लिए भी जाती थीं।

फ्लाइंग ऑफिसर गुंजन सक्सेना 25 साल की थीं जब उन्होंने कारगिल युद्ध के दौरान उड़ान भरी थी और श्रीनगर में तैनात थीं।। उन्हें शत्रुओं  की मैपिंग और निगरानी जैसी भूमिकाएँ भी सौंपी गई। और उन जिम्मेदारियों को बखूबी निभाते हुए उन्होंने अपनी दक्षता का परिचय दिया 
गुंजन सक्सेना के जीवन के संघर्ष से प्रेरित होकर अब बॉलीवुड जगत द्वारा एक फिल्म उनपर फिल्मायी जा रही है ,जिसमे जाह्नवी कपूर गुंजन सक्सेना की भूमिका निभाएगी ,तो वहीँ पंकज त्रिपाठी गुंजन सक्सेना के पिता का किरदार निभा रहे है।

बताते चले की  गुंजन सेना पर एक किताब भी लांच की गयी है जिसका नाम है "THE KARGIL GIRL " जिसे लोगो का खूब प्यार भी मिल रहा है|

 

ठाकुर मनोज सिंह (मनोज ठाकुर)
(न्यूज़ प्रोडूसर )

 

 

Sponsored Ads